दीवाली पर भारतीय सेना ने दिया ऐसा करारा जवाब, पाकिस्तान में मचाई तबाही, सहमी पाक सेना

Uncategorized

जम्मू: जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म होने के बाद से ही पाकिस्तान बेचैन है. एक ओर जहां भारत (India) के एक्शन ने जम्मू कश्मीर में आतंक की कब्र खोद दी है. वहीं दूसरी ओर पाकिस्तान आतंकियों की नई खेप की घुसपैठ कराने में सफल नहीं हो पा रहा है.

जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान की दहशतगर्दी की दुकान पर ताला लगना तय हो चुका है. इसीलिए बौखलाहट में वो सीज फायर उल्लंघन कर रहा है. दीवाली से पहले पाकिस्तान ने पुंछ, केरन, नौगाम, उरी और गुरेज समेत कई जगहों पर गोलियां बरसाईं तो भारत ने भी अपना जवाब देने में देर नहीं की.

पाकिस्तान की ओर से बिना उकसावे वाली गोलीबारी पर विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तानी उच्चायोग के वरिष्ठ अधिकारी को तलब किया और अपनी कड़ी आपत्ति दर्ज कराई. भारत ने पाकिस्तान उच्चायोग के चार्ज डी अफेयर्स को तलब कर अपनी कड़ी आपत्ति भी जाहिर की.

विदेश मंत्रालय में अपने बयान में कहा कि पाकिस्तान की ओर से त्योहारों के समय नियंत्रण रेखा पर गोलाबारी करके शांति भंग किया जाना और हिंसा भड़काना निंदनीय है. विदेश मंत्रालय के मुताबिक पाकिस्तान की इस कायराना हरकत में सुरक्षा बल के 5 जवान शहीद हुए हैं जबकि 4 नागरिकों की भी मौत हुई है. वहीं 19 लोग घायल हुए हैं.भारत की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के 8 सैनिकों की मौत हुई है.

ये पहला मौका नहीं है जब पाकिस्तान ने इस तरह की गुस्ताखी की हो. राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान दिए गए जवाब के मुताबिक पाकिस्तान ने LoC पर 1 जनवरी से लेकर 7 सितंबर तक ही 3186 बार सीज़फायर का उल्लंघन किया. जबकि अंतर्राष्ट्रीय सीमा पर जनवरी से लेकर 31 अगस्त 2020 तक 242 पर पाकिस्तान ने फायरिंग की. ये सिलसिला त्योहारों के समय भी जारी है.

पाकिस्तान दुनिया का इकलौता देश है जो बार-बार पिटकर भी अपनी हरकतें दोहराता रहता है. लेकिन दिवाली से पहले पाकिस्तान ने जो गलती की है उसकी उसे भारी कीमत चुकानी पड़ेगी. पाकिस्तान पर भारत की बम वर्षा ने उसे ये संदेश फिर से दिया कि उसकी हिमाकत का अंजाम बुरा होगा.

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *