भा गई दोस्त की बीवी, रोज मिलने के लिये बहाने रखता था तैयार

यह शख्स पड़ोस में रहने वाले अपने दोस्त की बीवी से प्यार करने लगा था। प्यार को पाने की खातिर उसने अपने दोस्त की हत्या का प्लान बनाया। जुर्म को अंजाम देने के बाद उनसे इस हत्याकांड को छिपाने के लिए एक हादसे का रुप दिया। इतना ही नहीं कत्ल के बाद वो अपनी दोस्त की बीवी के दुख में उसका हौसला भी बढ़ा रहा था ताकि कोई उसपर शक ना कर सके। लेकिन कहते हैं कि अपराधी चाहे जितना भी शातिर क्यों ना हो हर जुर्म के बाद वो कुछ ना कुछ सुराग जरूर छोड़ जाता है। इस केस में भी ऐसा ही हुआ और अपराधी इसी सुराग के दम पर पकड़ा गया। यह मामला दिल्ली का है। इस युवक का नाम कुलकेश है। जानकारी के मुताबिक कुलकेश यहां एक फैक्ट्री में काम करता था जहां उसका दोस्त दलबीर भी उसके साथ काम करता था। दोनों वेस्ट दिल्ली के मोहन गार्डेन इलाके में रहते थे और दोनों की दोस्ती अभी एक साल पहले ही हुई थी।धीरे-धीरे कुलकेश अपने दोस्त दलबीर के घर आने-जाने लगा और फिर उसे अपने दोस्त की बीवी पूजा पसंद आने लगी। वो मन ही मन उसे प्यार करने लगा तथा किसी तरह उसे खुश करने की कोशिशें शुरू कर दी। कई बार कुलकेश ने पूजा को कुछ तोहफे भी दिए। लेकिन जब दलबीर को इस बारे में पता चला तो उसने कुलकेश को उसके घर आने-जाने से मना कर दिया। कुलकेश इस बात को लेकर दलबीर से काफी नाराज था और किसी तरह पूजा को पाने की खातिर दलबीर को रास्ते से हटाना चाहता था। अपनी चाहत को पाने की खातिर कुलकेश ने एक भयानक साजिश रच डाली।बीते सोमवार (24 जून, 2018) को कुलकेश को यह पता चला कि पूजा बहादुरगढ़ में एक शादी में शामिल होने गई है। लिहाजा उसने दलबीर को किसी बातचीत के बहाने रेलवे ट्रैक के पास बुलाया। दलबीर के यहां आने के बाद कुलकेश ने अचानक एक भारी पत्थर से दलबीर के सिर पर जोरदार हमला कर दिया। हमले में दलबीर बुरी तरह जख्मी होकर गया और बेहोश हो गया। इसके बाद कुलकेश, दलबीर को घसीट कर रेलवे ट्रैक पर ले गया और उसने उसे वहीं छोड़ दिया। ट्रैक से जब एक ट्रेन गुजरी तब कुलकेश ने पुलिस को फोन कर घटनास्थल पर बुलाया। ट्रेन के नीचे आने की वजह से दलबीर के शरीर के कई टुकड़े हो चके थे। उस वक्त कुलकेश ने पुलिस को बताया कि ट्रेन के नीचे आने की वजह से दलबीर एक हादसे का शिकार हो गया।इधर पति के मौत से दुखी पूजा को कुलकेश ढांढस भी बंधाने लगा था। लेकिन पुलिस को कुलकेश की कहानी में कुछ गड़बड़ी नजर आई। जब पुलिस ने इस मामले में दलबीर के फोन कॉल की जांच की तो उजागर हुआ कि दलबीर की मरने से पहले अंतिम बार कुलकेश से ही बातचीत हुई थी। पुलिस के मुताबिक जब उससे इस बारे में पूछताछ हुई तो वो बार-बार अपना बयान बदल रहा था और वो यह भी नहीं बता सका कि उसके शर्ट पर खून के धब्बे कैसे आए? बाद में सख्ती बरतने पर उसने दलबीर की हत्या की बात कबूल ली। पुलिस के मुताबिक कुलकेश, पूजा से प्यार करता था लेकिन पूजा उसके प्रपोजल को बार-बार ठुकरा देती चुकी थी और अपने पति को छोड़ने के लिए किसी भी कीमत पर तैयार नहीं थी। इसके बाद उसने दलबीर का कत्ल कर पूजा से शादी करने के लिए यह प्लान बनाया था।

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *